ब्रेकिंग न्यूज़

डिप्रेशन में ऐसा हो जाता है लोगों का हाल, फोटोग्राफर ने दिखाई दर्दनाक तस्वीर

सेंट पीटर्सबर्ग में जन्मी फोटोग्राफर विक्टोरिया क्रुंडीशेवा (Victoria Krundysheva) 2015 में भारत आई और उन्होंने भारतीय महिलाओं को फोकस में रखकर कई फोटोशूट किए। हाल ही में उन्होंने डिप्रेशन का शिकार हुई महिलाओं के दर्द को लोगों के सामने तस्वीरों द्वारा लाने की कोशिश की है। डार्क रूम नाम से किए गए इस फोटोशूट में विक्टोरिया ने दिखाया है कि कैसे डिप्रेशन में लोग घुट कर जीते हैं।

सभी से छिपकर रहने का करता है मन...

 
विक्टोरिया ने कॉन्सेप्चुअल फोटोज के जरिए डिप्रेशन की तकलीफ लोगों को दिखाई है। 
हर तस्वीर में उन्होंने डिप्रेशन के अलग आयाम को दिखाने की 
कोशिश की है। 
ऊपर दिख रही फोटो के जरिए उन्होंने दिखाया है कि कैसे डिप्रेशन में इंसान चीखना चाहता है, अपनी फ़्रस्ट्रेशन निकालना चाहता है लेकिन उसकी आवाज नहीं निकल पाती। 
सोशल साइट्स पर इन दिनों ये फोटोज वायरल हो रहे हैं।
Darkness Of Depression In Photos
अंधेरा और अकेलापन आपको हर तरफ से घेर लेता है। आप उससे दूर नहीं जा पाते
 
 
 
Darkness Of Depression In Photos
डिप्रेशन में इंसान बिलकुल अंधेरे कमरे में रहता है। ये अंधेरा उसके दिमाग में होता है, जहां वो बिल्कुल अकेला होता है
 
Darkness Of Depression In Photos
कोई भी आपको समझ नहीं पाता। धीरे-धीरे आप अकेले रह जाते हैं।
 
Darkness Of Depression In Photos
आपको अपने आप से नफरत होने लगती है। ऐसा लगता है जैसे आपकी स्किन के अंदर कुछ चल रहा है, जिसे आप हटा नहीं पा रहे हैं।
 
Darkness Of Depression In Photos
ऐसा लगता है जैसे आपकी बॉडी में कांटे चुभ रहे हैं। लेकिन ये साड़ी तकलीफ आपके अंदर रहती है।
 
 
 
 
 

Default Color Navbar Fixed / Normal Show / Hide background Image

Click the above buttons to see preview in this demo.